बात करने से मना किया, तो हत्या कर दी:​​​​​​​महासमुंद में बाइक सवार 3 युवकों ने B.Ed की छात्रा को सिर में मार दी गोली, थाने जाकर एक आरोपी ने किया सरेंडर

 


कोतवाली क्षेत्र के बेलसोडा गांव की घटना, युवती अपनी बहन के साथ लौट रही थी घर 

सरेंडर करने वाला युवक करता था एक तरफा प्यार, दो अन्य आरोपियों की तलाश जारी

छत्तीसगढ़ के महासमुंद में गुरुवार दोपहर तीन युवकों ने एक B.Ed की छात्रा की गोली मारकर हत्या कर दी। युवकों ने वारदात को इसलिए अंजाम दिया क्योंकि छात्रा उनसे बात नहीं करती थी। सिर में कान के पास गोली लगने से छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद बाइक सवार तीनों युवक मौके से भाग निकले। फिर उनमें से एक युवक कोतवाली थाने पहुंचा और सरेंडर कर दिया। उसे ही मुख्य आरोपी बताया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, बेलसोडा गांव निवासी रूपा धीवर (22) B.Ed की छात्रा थी। वह गुरुवार को अपनी बहन के साथ मेडिकल स्टोर से लौट रही थी। इसी दौरान सुंदर नगर में दोपहर करीब 1 से 2 बजे के बीच बाइक सवार तीन युवक पहुंचे। उनमें से एक युवक ने रूपा को आवाज दी। जैसे ही वह रुकी युवक बाइक से उतरा और कट्‌टे से फायर कर दिया। गोली रूपा की कनपटी पर लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद युवक वहां से भाग निकले। पुलिस जांच कर रही थी, तब तक आरोपी थाने पहुंच गया सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और साइबर टीम के साथ जांच शुरू की। अभी परिजनों से बात कर उनके बयान नोट किए जा रहे थे कि इसी बीच एक युवक थाने पहुंचा और सरेंडर कर खुद को रूपा का हत्यारा बताया। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। पकड़े गए युवक का नाम चंद्रशेखर परमार है। वह भी बेलसोडा गांव का रहने वाला है और ड्राइवरी करता है। प्रारंभिक पूछताछ में बताया है कि वह रूपा से एक तरफा प्यार करता था। दिल्ली के आसपास से खरीदा था मारने के लिए कट्टा एडिशनल SP मेघा टेम्भूलकर ने बताया कि अभी तक की पूछताछ में चंद्रशेखर ने बताया कि रूपा को मारने की साजिश उसी ने रची थी। इसके लिए अपने दो दोस्तों परब निषाद और एक अन्य को तैयार किया। बाइक भी परब की ही थी। हत्या के लिए चंद्रशेखर ने दिल्ली-मेरठ के आसपास से कट्टा खरीदा था। फिलहाल उससे अभी और पूछताछ की जा रही है। वहीं बाकी दोनों आरोपियों की भी तलाश कर रहे हैं। अभी दूसरे का नाम सामने नहीं आया है।