क्या आपको पता है आपका Aadhar Card असली है या नकली? फ्रॉड से बचें और ऐसे करें पता

 


नई दिल्ली:
आज के दौर में ऑनलाइन स्कैम से बचना बेहज जरूरी हो गया है. मजह एक क्लिक में लोगों के अकाउंट से हजारों-लाखों रुपये गप कर लिए जाते हैं. ऐसे में जरूरी है कि आप सतर्क रहें और इंटरनेट पर किसी भी काम को करने से पहले कई बार रीचेक कर लें. एक और चीज है, जिसपर आपको ध्यान रखना चाहिए. वह हैं आपके डॉक्यूमेंट्स. ऑनलाइन ठगी में इसका भी इस्तेमाल तेजी से किया जा रहा है. वहीं, ऐसी शिकायतें भी सामने आई हैं कि लोगों को उनके डॉक्यूमेंट्स नकली मिल रहे हैं.

देखने से नहीं पता चलता असली-नकली आधार कार्ड में अंतर अगर हम आधार कार्ड की बात करें तो हर भारतीय के लिए ये सबसे महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट है. इसके जरिए सरकारी और गैर-सरकारी दोनों काम ही बड़ी आसानी से हो जाते हैं. ऐसे में अगर यह खबर आए कि आपका आधार कार्ड असली है ही नहीं तो आप क्या करेंगे? आपके सारे काम अटक सकते हैं और आप पर लीगल एक्शन भी लिया जा सकता है. लेकिन परेशानी की बात यह है कि लोगों को इस बात की खबर ही नहीं होती. नकली या फर्जी आधार कार्ड के चलते आपके कई दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए आपका यह जानना जरूरी है कि आपका आधार कहीं नकली तो नहीं. हम बताते हैं कैसे लगाएं इसका पता...

इस तरह करें पता: 

1. सबसे पहले आपको आधार वेरिफिकेशन के लिए ऑफिशियल वेबसाइट https://resident.uidai.gov.in/aadhaarverification पर जाना होगा. 

2. इस लिंक पर जाते ही आपके स्क्रीन पर आधार वेरिफिकेशन का पेज आएगा. सामने जो टेक्स्ट बॉक्स आएगा, उसमें आपको अपना आधार नंबर डालना है. 

3. 12 डिजिट का आधार नंबर डालने के बाद आपकी स्क्रीन पर कैप्चा (यह जानने के लिए कि कहीं आप रोबोट तो नहीं) आएगा, जिसे आपको एंटर करना होगा

4. इसके बाद आपको Verify का ऑप्शन आएगा, जिसपर आपको क्लिक करना होगा. अगर आपका आधार नंबर सही होगा तो आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आपके आधार नंबर के साथ आपकी सभी डिटेल्स होंगी.

5. वहीं, आधार नंबर गलत होने पर यह नया पेज खुलेगा ही नहीं और Invalid Aadhar Number शो करने लगेगा. 

6. आधार कार्ड नकली होने पर आपको तुरंत इसकी शिकायत करनी चाहिए. इसके लिए एक टोल फ्री नंबर 1947  जारी किया गया है.