CPI में विवाद के बीच जेडीयू नेता से मिले कन्हैया कुमार, अटकलें तेज




बिहार की सियासत में हर रोज नई खिचड़ी पकती दिख रही है. फिलहाल चर्चा कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (सीपीआई) के नेता और जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार की बिहार सरकार में मंत्री और जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) नेता अशोक चौधरी से मुलाकात की है. कन्हैया और अशोक चौधरी की बॉडी लैंग्वेज से कई तरह की चर्चाएं हैं. कन्हैया कुमार ने मंत्री अशोक चौधरी से उनके आवास पर मुलाकात की. हालांकि इस मुलाकात को औपचारिक बताया जा रहा है, लेकिन दूसरी तरफ बिहार के सियासी गलियारों में हलचल तेज हो गई है. यह मुलाकात उस वक्त हो रही है, जब सीपीआई ने कन्हैया कुमार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया है 

कन्हैया के खिलाफ क्यों पारित किया गया निंदा प्रस्ताव? कन्हैया कुमार के ऊपर आरोप था कि उन्होंने पिछले साल 1 दिसंबर को पटना में पार्टी कार्यालय में पार्टी के कार्यालय सचिव इंदु भूषण के साथ बदसलूकी की थी. उस वक्त पार्टी के नेताओं ने बताया था कि कन्हैया कुमार इस बात को लेकर नाराज हो गए थे कि पटना में बेगूसराय जिला काउंसिल की एक बैठक बुलाई गई थी, जिसके बाद उसे अचानक रद्द कर दिया गया था. कन्हैया कुमार के ऊपर आरोप था कि इसी वजह से उन्होंने पार्टी कार्यालय सचिव इंदु भूषण के साथ मारपीट की थी. बता दें कि कन्हैया कुमार बेगूसराय के रहने वाले हैं. पिछले हफ्ते हैदराबाद में सीपीआई की अहम बैठक हुई थी जिसमें उनके द्वारा पटना में किए गए मारपीट की घटना को लेकर उनके खिलाफ निंदा प्रस्ताव पास किया गया था.