Bihar Board Exam : इंटर और मैट्रिक परीक्षा मूल्यांकन के लिए बिहार बोर्ड ने बदले नियम

 


बिहार में इंटरमीडिएट और मैट्रिक की उत्तर पुस्तिका का मूल्यांकन अब एक पाली में ही किया जाएगा। बिहार बोर्ड ने अपने नियम में बदलाव कर दिया है। इसकी जानकारी सभी केंद्राधीक्षक और सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को दी गयी है। ज्ञात हो कि बोर्ड द्वारा इस बार कई विषयों का मूल्यांकन दो पाली में कराने का निर्णय लिया गया था। यह मूल्यांकन सुबह 9.30 बजे से रात के दस बजे तक चलता। लेकिन बिहार बोर्ड ने अब इसमें परिवर्तन कर दिया है। अब मूल्यांकन सुबह 9.30 से पांच बजे तक एक ही पाली में कराया जायेगा। ज्ञात हो कि बोर्ड द्वारा इंटर और मैट्रिक के उन विषयों का मूल्यांकन दो पाली में करवाने का निर्णय लिया गया था, जिसमें छात्रों की संख्या अधिक है। इसमें इंटर में हिन्दी, अंग्रेजी, भौतिकी, रसायन और गणित विषय शामिल थे। वहीं मैट्रिक में अंग्रेजी, हिन्दी, मैथिली, संस्कृत, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान और गणित विषय शामिल थे। अब मूल्यांकन एक ही पाली में होगा। बोर्ड की मानें तो इंटर मूल्यांकन पांच से 15 मार्च तक चलेगा। वहीं मैट्रिक मूल्यांकन 12 से 24 मार्च तक चलेगा। मूल्यांकन के दौरान अगर प्रधान परीक्षक और सह-परीक्षक चाहें तो निर्धारित अवधि के उपरांत अपनी इच्छा से सात बजे तक मूल्यांकन कार्य कर सकते हैं। वहीं, मैट्रिक के सामाजिक विज्ञान की प्रथम पाली की परीक्षा आठ मार्च को ली जायेगी। इसमें आठ लाख 45 हजार से अधिक परीक्षार्थी शामिल होंगे।