बाढ़ NTPC के 29 कर्मचारी और उनके 35 परिजन पॉजिटिव, बिहार में बिजली आपूर्ति हो सकती है प्रभावित

 


बिहार में कोरोना से लोगों के बीच हाहाकर मचा हुआ है। संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ रहा है। मौतों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। रिकवरी रेट में भी कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। उधर, बाढ़ NTPC में 29 कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए हैं। इन कर्मचारियों के 35 परिजन भी संक्रमित हैं। NTPC के अनुसार, कंपनी की पूर्वी क्षेत्र की 10 परियोजनाओं में करीब 200 कर्मचारी संक्रमित हैं। इन परियोजनाओं में 6 बिहार में हैं, बाकी पश्चिम बंगाल और झारखंड में हैं। वहीं, मंगलवार सुबह पटना में पत्रकार संदीप मिश्रा की मौत हो गई। वे कोरोना संक्रमित थे और डायलिसिस पर भी थे। वे किडनी के भी गंभीर मरीज थे।

छपरा सदर अस्पताल में कई संक्रमित
छपरा सदर अस्पताल में इमरजेंसी वार्ड में ड्यूटी करने वाले कई चिकित्सक पॉजिटिव हो गए हैं। उनके साथ वहां काम कर रहे कुछ स्वास्थ्य कर्मी भी पॉजिटिव हो चुके हैं। एक डॉक्टर का पूरा परिवार कोविड संक्रमण की चपेट में आ चुका है। इलाज के बाद भी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद चिकित्सक इमरजेंसी वार्ड में ड्यूटी करने से कतराने लगे थे। जिसको लेकर कुछ दिनों पहले सदर अस्पताल में हंगामा के बाद तोड़फोड़ भी हुआ था। उधर, सीवान के यदुनाथ साह का महाराजगंज के एक अस्पताल में मंगलवार की सुबह मौत हो गई। वे दो दिन पहले संक्रमित हुए थे। 60 साल यदुनाथ साह के परिजनों का अस्पताल परिसर में रो-रो कर बुरा हाल है।​​​​​​​ सोमवार को कोरोना ने प्रदेश में 41 लोगों की जान ले ली है और 7487 लोगों को पॉजिटिव कर दिया है। प्रदेश में अब कुल एक्टिव मामलों की संख्या 49527 हो गई है। कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और अगर ऐसे बढ़ता रहा तो कुछ ही दिनों में आंकड़ा 10 हजार एक्टिव केस का पहुंच जाएगा। सोमवार को जांच की संख्या घटकर 83361 हो गई। बावजूद इसके 7487 पॉजिटिव केस मिले। यह करीब 8.99 % है। पटना में सोमवार को 17 लोगों की मौत हुई थी। इसमें पटना AIIMS में 3, पटना मेडिकल कॉलेज में 6 संक्रमितों की मौत हुई, वहीं नालंदा मेडिकल कॉलेज में 8 लोगों की जान गई थी। 

सोमवार को इन VVIP की गई जान

सोमवार की सुबह पूर्व मंत्री मेवालाल चौधरी की कोरोना से मौत हो गई। प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य पं. दीपक मिश्रा भी नहीं रहे। बेगूसराय के समाजसेवी मुचकुंद कुमार मोनू की भी जान चली गई। गया के गरुआ से रिपोर्टिंग करने वाले 30 वर्षीय पत्रकार मनीष कुमार का मगध मेडिकल अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया। उधर, विधानसभा के बाद अब मौत सुन परिषद पर भी ताला लग गया है। कोरोना से माली लाल बाबू की मौत हो गई।