तौकते चक्रवात से भारी बारिश का अनुमान:गोवा, दक्षिण कोंकण सहित कर्नाटक में भारी वर्षा की चेतावनी, हाई अलर्ट पर तटरक्षक बल सहित सभी एजेंसियां

 


भारत के तटीय इलाकों से ‘तौकते’ नाम का चक्रवात के टकराने की संभावना है। मौसम विभाग ने इसकी जानकारी दी। विभाग के मुताबिक गोवा, दक्षिण कोंकण एरिया सहित कर्नाटक में भारी बारिश हो सकती है। इससे आने वाले दिनों में तटीय इलाकों में मौसम बदलाव की भी संभावना है। 'तौकते' का मतलब है ज्यादा शोर वाली छिपकली। नए तूफान का यह नाम म्यांमार से आया है।

मौसम विभाग ने कहा है कि अगले 3-4 दिनों में गुजरात के साथ-साथ महाराष्ट्र और गोवा के तटीय क्षेत्रों से 'तौकते चक्रवात' के टकरा सकता है। दरअसल, शुक्रवार सुबह दक्षिण-पूर्वी अरब सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बना है।

भारी बारिश की आशंका

यह दक्षिण-पूर्व अरब सागर और निकटवर्ती लक्षद्वीप क्षेत्र में उत्तर-पश्चिम की ओर तेजी से आगे बढ़ने की कैपेसिटी रखता है। इसे देखते हुए मौसम विभाग ने लक्षद्वीप, केरल, कर्नाटक, गोवा और महाराष्ट्र में भारी बारिश की आशंका जताई है। शनिवार यानी 15 मई को सुबह तक और तीव्र होकर अगले 24 घंटों में इसके चक्रवात में बदलने की संभावना है, जो गुजरात तट से टकराएगा।

दक्षिण भारत में इन इलाकों में भारी बारिश का अनुमान

मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो दिनों में कर्नाटक में भारी वर्षा और आंधी आने की संभावना है। इसके अलावा दक्षिण कन्‍नड़, उडुपी और तटीय उत्‍तर कन्‍नड़, बेल्‍लारी, बेंगलुरू, चामराज नगर, चिक्‍काबल्‍लापुर, चित्रदुर्ग, दामनगिरी, हासन, कोडगु, कोलार, मंडया, मैसूरू, रामनगर, शिवमोगा और तुमकुर में शुक्रवार और शनिवार को भारी वर्षा होने की चेतावनी जारी की है।

तटरक्षक बल और अन्य एजेंसियां हाई अलर्ट पर

समुद्र में खराब स्थिति और भारी वर्षा के कारण क्षेत्र के मछुआरों से मछली न पकड़ने की सलाह दी गई है। इसके अलावा तटरक्षक बल सहित सभी एजेंसियां हाई अलर्ट पर हैं। अनुमान के मुताबिक चक्रवात के चलते बारिश के साथ तूफान भी आ सकता है।